किसान आयोग के गठन को लेकर केंद्र सरकार पर गरजे भाकियू भानु के राष्ट्रीय अध्यक्ष ठाकुर भानु प्रताप सिंह

किसान आयोग के गठन को लेकर केंद्र सरकार पर गरजे भाकियू भानु के राष्ट्रीय अध्यक्ष ठाकुर भानु प्रताप सिंह

माँ गंगा के तट पर शुरू हुए भारतीय किसान यूनियन भानु के तीन दिवसीय अधिवेशन के पहले दिन किसान संगठन के पदाधिकारियों ने किसानों से एकजुटता और सरकार की किसान विरोधी नीतियों के खिलाफ संघर्ष का आह्वान किया। दिन होने वाले इस राष्ट्रीय अधिवेशन में देश के कई राज्यों के किसान मौजूद रहेंगे। आज किसानों को संबोधित करते हुए राष्ट्रीय अध्यक्ष ठाकुर भानु प्रताप सिंह ने कहा कि केंद्र सरकार किसानों से किए वादों को पूरा करने में नाकाम रही है। सरकार की नीतियों के चलते किसानों को अनेक समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है। उपज का सही दाम नहीं मिल रहा है। चीनी मिलों पर बकाया गन्ने का भुगतान नहीं हो पा रहा है। सरकार ने किसानों की आय दोगुना करने का वादा किया था। लेकिन किसान आर्थिक रूप से कमजोर होता जा रहा है। सरकार एमएसपी पर गारंटी देने के वादे को भी पूरा नहीं कर पायी है। ठाकुर भानु प्रताप सिंह ने कहा कि सरकार की नीतियों के चलते किसान लगातार कमजोर हो रहा है। किसानों को एकजुट होकर सरकार की नीतियों के खिलाफ संघर्ष करना होगा। तीन दिवसीय अधिवेशन में संघर्ष की रणनीति तैयार की जाएगी। सरकार की नीतियों से परेशान किसान आने वाले चुनाव में इसका जवाब देगा। उन्होंने कहा कि एमएसपी पर गारंटी,किसान आयोग का गठन और स्वामी नाथन आयोग की सिफारिशों को तत्काल प्रभाव से लागू किया जाए। जिससे किसानों को राहत मिल सके। आज अधिवेशन में राष्ट्रीय महासचिव नितिन चैधरी, जिलाध्यक्ष भागमल, युवा प्रकोष्ठ के प्रदेश अध्यक्ष सचिन चौधरी, प्रदेश महासचिव विनय चौधरी, प्रदेश सचिव विकास चौधरी, प्रदेश उपाध्यक्ष मनोज गुप्ता, युवा प्रकोष्ठ जिलाध्यक्ष अंकित, खानपुर ब्लाॅक अध्यक्ष अनुराग खटाना, लक्सर नगर अध्यक्ष दीक्षित कुमार, प्रदेश प्रभारी देवेश राणा सहित बड़ी संख्या में किसान नेता शामिल रहे।

1 Comment

  1. Thank you for your sharing. I am worried that I lack creative ideas. It is your article that makes me full of hope. Thank you. But, I have a question, can you help me?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *